साहिबे ताज वो Sahibe Taj Wo Lyrics


Sahibe Taj Wo Lyrics In Hindi

साहिबे ताज वो, शाह ए मेराज वो x2
शेह सवारे बुरहाको अमीर ए आलम
दफाये हर बाला दफाये हर माबा,
दफाये कहते हैं, राज़ो रंजो आलम

साहिबे ताज वो, शाह ए मेराज वो

इस्म लिखा गया इस्म ऊंचा हुआ
इस्म मोहर ए कबूल ए शफ़ात भी है
इस्म की बरकतें, इस्म की रोनाकीं
इस्म लोहा कलाम की इमानत है

क्या अरब क्या आजम सब के सरदार हैं
सब के सरदार का है मुकद्दस बदन
हर कबा को वो जो मुनव्वर करे
वो महकती वो पाकीज़ा सी इक किरानो
साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

चास्त गहनों का सूरज वुजूद आपका
आप हर शक की जुल्मत के महताब हैं
सद रे बज़्म ए बुलंदी ओ रफ़ात के हैं
राह गुजरे हिदायत के महताब हैं
साड़ी मखलूक की हैं वो जाए अमानी
साड़ी तारिकियो के वो रोशन चाराघो
नायक जीनत हैं वो नायक अतवर हैं
उनके हाथो में है बख्शीशों के आया

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

सर से जोड़े तलाक वो करम ही करम
रब हिफ़ाज़त करे बिल याकीन एपी की
उनके खिदमत गुजरों में जिब्रील हैं
या सावरी बुराके हसीन एपी कि
सफर उनका है मेराज या सिद्र
तुल मुंतहा मुस्तकार या मकाम उनका है
काबा कोसैन का मरतबा उनका मतलूब है
या दार-उ-सल्लम उनका है

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

या मतलूब ही उनका मकसूद है
या मकसूद ही उनका मुजूद है
आप सारे रसूलों के सरदार हैं
आप का सिरफ अल्लाह मबूद है
बाद में सारे नबियों के आए हैं वो
बख्शवाईं गे हर इक गुन्नाह गर को
हर मुसाफिर की करते हैं गम ख्वारियां
रहमतें बंटते हैं वो संसार को

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

आशिकों के दिलों की वो तस्कीन हैं
या मुरादें हर इक साहिब शोक किस
हक शनासों की खुर्शीदो खबर है वो
साल की ने रे इश्क की रोशनी
प्यार मोहताज ओ मुफलिस से गलतियाँ से
हर मुकरिब की वो रहनुमाई करें
जिन्नो इंसान के सरदार दोनो हराम
दोनो किबलों की वो पैशवेई करें

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

दुनिया या अक्षर का वसीला है वो
रुतबा ए कबा कोसै जिन्को मिला
दोनो ही मशरिकों मगरिबो का वो रबी
हासिल उन्को ख़तब उसके महबूब का
जद्द-ए-अमजद हैं हसनैन के या हरि
जिन्नो इंसान का आका ओ मौला हैं वो
बाप कासिम के होते हैं अब्दुल्ला को
या नूर ए इलाही का हिसा है वो

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2

ऐ फ़िदायाने नूर जमाले नबी
आप पर आलो अस-हाब पर सुभो शाम
जेसे हक भी जिन्ही का है भाईजो बसाड़
एहतराम ओ मोहब्बत दुरूद ओ सल्लम

साहिबे ताज वो, शाही मेराज वो x2
शेह सवारे बुरहाको अमीर ए आलम, दफाये हर बाल
दफाये हर माबा, दफाये कहते हैं, राज़ो रंजो आलम
साहिबे ताज वो, शाह ए मेराज वो

Music Video of Sahibe Taj Wo Song:

Sahibe Taj Wo Lyrics In English

Sahibe taaj wo, Shah e meraaj wo x2
Sheh saware burhako ameer e alam
dafaye har bala Dafaye har maba,
dafaye kehto-am, raazo ranjo alam

Sahibe taaj wo, shah e meraaj wo

Ism likha gaya ism ooncha hua
Ism mohr e kabool e shafaat bhi hai
Ism ki barkatein, ism ki ronakein
Ism loho kalam ki imanat hai

Kya arab kya ajam Sab k sardar hain
Sab k sardar ka hai muqadas badan
Harm kaba ko wo jo munawar kare
Wo mehekti wo pakeeza si ik kiran
Sahibe taaj wo, shahe meraaj wo x2

Chaast gahon ka sooraj wujood apka
Ap har shak ki zulmat k mahtaab hain
Sad re bazm e bulandi o rafa’at k hain
Rah guzare hidayet k mahtaab hain
Sari makhlook ki hain wo jaye amaan
Sari taareekiyo k wo roshan charaagh
Naik zeenat hain wo naik atwar hain
Unke hatho me hai bakhshishon k aya

Sahibe taaj wo, shahe meraaj wo x2

Sar se pairon talak wo karam hi karam
Rab hifazat kare bil yakeen ap ki
Unke khidmat guzaron me jibreel hain
Or sawari burake haseen ap ki
Safar unka hai meraaj or sidra
Tul muntaha mustaqar or makaam unka hai
Kaaba kosain ka martaba unka matloob hai
Or dar-u-sallam unka hai

Sahibe taaj wo, shahe meraaj wo x2

Or matloob hi unka maqsood hai
Or maqsood hi unka mojood hai
Ap saare rasoolon k sardar hain
Ap ka sirf ALLAH mabood hai
Baad me sare nabiyon k aye hain wo
Bakshwayein ge har ik gunnah gar ko
Har musafir ki krte hain gham khawariyan
Rehmatein bantttein hain wo sansaar ko

Sahibe taaj wo, shahe meraaj wo x2

Aashiqon k dilon ki wo taskeen hain
Or muradein har ik sahibe shok ki
Haq shanason ki khursheedo khaawar hain wo
Saal ki ne rhe ishq ki roshini
Pyar mohtaaj o muflis se miskeen se
Har mukarib ki wo rehnumai karein
Jinno insan k sardar dono haram
Dono kiblon ki wo paishwayi karein

Sahibe taaj wo, shaahe meraaj wo x2

Duniya or aakhrat ka waseela hain wo
Rutba e kaba kosain jinko mila
Dono hi mashrikon magribo ka wo rab
Haasil unko khiatab uske mehboob ka
Jadd-e-amjad hain Hasnain k or har
Jinno insaan k aaqa o maula hain wo
Baap Kasim k baite hain Abdullah k
Or noor e ilahi ka hissa hain wo

Sahibe taaj wo, shaahe meraaj wo x2

Aey fidayaane noore jamale Nabi
Ap par aalo as-haab par subho shaam
Jese haq bhi jinhi ka hai bhaijo bassad
Ehtraam o mohabbat durood o sallam

Sahibe taaj wo, shaahe meraaj wo x2
Sheh saware burhako ameer e alam, dafaye har bala
Dafaye har maba, dafaye kehto-am, raazo ranjo alam
Sahibe taaj wo, shah e meraaj wo

We hope you understand Sahibe Taj Wo Lyrics. So please share it with your friends and family. Thank you for joining Lyricsveer we will continue to bring you lyrics of all new songs in the same way.